JUDAI SHAYARI IN HINDI Judai quotes and status in Hindi

BEWAFA SHAYARI
BEWAFA SHAYARI

JUDAI SHAYARI

तुम्हें क्या लगा मझे तुम्हारी याद नहीं आती??
अपनी बरबादी को कौन भुल सकता

गलती तुम्हारी नही कि तुने मुझे धोखा दिया
गलती तो हमारी थी हमने तुम पर भरोसा किया

बड़े शौक से बनाया तुमने मेरे दिल मे अपना घर,

जब रहने की बारी आई तो तुमने ठिकाना बदल दियl

हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन?

JUDAI SHAYARI

कोई अनजान जब अपना बन जाता है,
ना जाने क्युँ वो बहुत याद आता है,
लाख भुलाना चाहो उस चेहरे को मगर,
अकस उसका हर चीज़ में नज़र आता है.. दूरियाँ तो मिटा दूँ मैं एक पल में मगर,

कभी कदम नहीं चलते कभी रास्ते नहीं मिलते।

कुछ तो बात है मोहबत्त मे
वरना एक लाश के लिए
कोई ताजमहल नहीं बनवाता

यह याद है आपकी या यादें में आप हो।
यह ख्वाब है आपके या ख्वाबो में आप हो।
हम नहीं जानते सब इतना बता दो।
हम जान है आपकी या जान हमारी आप हो

यह याद है आपकी या यादें में आप हो।
यह ख्वाब है आपके या ख्वाबो में आप हो।
हम नहीं जानते सब इतना बता दो।
हम जान है आपकी या जान हमारी आप हो

तुम्हे क्या लगा मुझे तुम्हारी याद

नहीं आती अरे पागल अपनी

बर्बादी को कौन भूल सकता है

 

JUDAI SHAYARI

 

एक बात बोलू कभी किसी से
न बात करने की आदत मत
डालना यार क्योकि जब
वह बात करना बंद कर देते है
तो जीना मुश्किल हो जाता है

 

सुबहा लिखूंगा शाम लिखूंगा
हाले दिल तमाम लिखूंगा
वो कलम भी दीवानी हो जाएगी
जिससे मै अपने मेहबूब का नाम लिखूंगा

हर सागर के दो किनारे होते है,
कुछ लोग जान से भी प्यारे होते है,
ये ज़रूरी नहीं हर कोई पास हो,
क्योंकी जिंदगी में.. यादों के भी सहारे होते है

 

एक अजीब दास्तान है मेरे अफसाने की..
मैने पल पल कोशिश उसके की पास जाने की,
किस्मत थी मेरी या साजिश थी ज़माने की,
दूर हुई मुझसे इतना जितनी उमीद थी करीब आने की.

तुम भी चाहत के समन्दर में उतर जाओगे,
खुशनुमा से किसी मंजर पे ठहर जाओगे ।
मैने यादों में तुम्हें इस तरह पिरोया है,
मै जो टूटी तो सनम तुम भी बिखर जाओगे

 

JUDAI SHAYARI

 

दूरियों की ना परवाह कीजिये,
दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये,
कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे,
बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये

 

आरज़ू होनी चाहिए किसी को याद करने की……!!
लम्हें तो अपने आप ही मिल जाते हैं,
कौन पूछता है पिंजरे में बंद पंछियों को,
याद वही आते है जो उड़ जाते है…!!

 

न वो आ सके न हम कभी जा सके,
न दर्द दिल का किसी को सुना सके,
बस बैठे है यादों में उनकी,
न उन्होंने याद किया और न हम उनको भुला सके !!

 

तू लाख भुला के देख मुझे,
मैं फिर भी याद आऊंगा,
तू पानी पी पी के थक जाएगी,
मैं हिचकिया बन बन के सताऊंगा..

JUDAI SHAYARI

कोई वादा नहीं फिर भी प्यार है,
जुदाई के बावजूद भी तुझपे अधिकार है,
तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गवाही,
मुझसे मिलने को तू भी बेक़रार है..

 

इन आंखो मे आंसू आये न होते,

अगर वो पीछे मुडकर मुस्कुराये न होते,
उनके जाने के बाद बस यही गम रहेगा,
कि काश वो हमारी ज़िन्दगी मे आये न होते..

 

उदास आँखों में अपने करार देखा है,
पहली बार उसे बेक़रार देखा है,
जिसे खबर ना होती थी मेरे आने जाने की,
उसकी आँखों में अब इंतज़ार देखा है..

हकीक़त कहो तो उनको ख्वाब लगता है,
शिकायत करो तो उनको मजाक लगता है,
कितने सिद्दत से उन्हें याद करते है हम,
और एक वो है, जिन्हें ये सब इत्तेफाक लगता है..

JUDAI SHAYARI

बड़ी गुस्ताख़ है तेरी यादें इन्हे तमीज सिखा दो…
दस्तक भी नहीं देती और दिल में ऊतर आती है….!!

 

जब भी तेरी याद आती है,तब मे अपने दिल पे हाथ रखता हूँ..क्योंकि..मुझे पता है तू कहीं नहीं मिली तो यहां जरूर मिलेगीं..!

 

अब हिचकियाँ आती हैं तो पानी पी लेते हैं….!
ये वहम छोड़ दिया है कि कोई याद करता है….!!

 

मेरे दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो…
इंतज़ार उसका है जिसे मेरा एहसास तक नहीं…!!

JUDAI SHAYARI

 

 

 

 

 

 

 

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*